पैदल हज पर जा रहे शिहाब चित्तूर को पाकिस्तान सरकार ने वीजा देने से किया इंकार

पैदल हज पर जा रहे शिहाब चित्तूर को पाकिस्तान सरकार ने वीजा देने से किया इंकार

नई दिल्ली, (रुखसार अहमद) केरला से मक्का पैदल हज के लिए जा रहे शिहाब चित्तूर को पाकिस्तान सरकार ने अपने देश से गुजरने की इजाजत देने से इंकार कर दिया है। इस बात की जानकारी मजलिस अहरार इस्लाम के मुख्यालय में पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने दी।

शाही इमाम मौलाना उस्मान लुधियानवी ने कहा की शिहाब चित्तूर क्योंकि इन दिनों हमारे पंजाब से गुजर रहे हैं तो उनसे मैं कई बार मिल चुका हूं, इन मुलाकातों में यह बात सामने आई है कि दिल्ली स्थित पाकिस्तान दूतावास ने पैदल हज यात्री को धोखा दिया है, पाकिस्तान के दिल्ली स्थित दूतावास ने पहले तो शिहाब चित्तूर को आश्वासन दिया कि

आप पैदल हज यात्रा शुरू कर दो जब आप भारत पाकिस्तान सीमा के करीब पहुंचोगे तो आपको पाकिस्तान का वीजा दिया जाएगा, तब पाकिस्तान दूतावास ने यह तर्क दिया था कि पहले वीजा देने से उसकी अवधि खत्म हो जाएगी, इस लिए सरहद पर पहुंचते ही शिहाब चित्तूर को वीज दिया जाएगा। शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने कहा कि अब जब शिहाब चित्तूर लगभग तीन हजार किलोमीटर पैदल यात्रा कर के वाघा बॉर्डर के करीब पहुंच गया है तो पाकिस्तान की सरकार ने अपनी आदत के मुताबिक अब वीज़ा देने से साफ इंकार कर दिया है।

खबर के मुताबिक शाही इमाम ने कहा कि पाकिस्तान के अफसरों के इस रैवइये से हमें हैरत नहीं हुई क्यूंकि इनका पुराना काम है सिर्फ धोखा देना। शाही इमाम ने कहा कि भारत के मुसलमानो ने कभी पाकिस्तान सरकार से कुछ नही चाहा, 75 वर्षों में पहली बार एक भारतीय मुसलमान पैदल हज के लिए जब मक्का शरीफ जा रहा है तो पाकिस्तान उसको अपनी जमीन से गुजरने भी नही देना चाहता।

आखिर क्यों सिर्फ इसलिए पाकिस्तान की सरकार शिहाब चित्तूर को ट्रांजिस्ट वीजा नहीं दे रही कि वह एक भारतीय मुसलमान है। शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने कहा कि पाकिस्तान सरकार को शर्म आनी चाहिए दुनिया भर में इस्लाम के नाम पर ढिंढोरा पीटने वाला देश शिहाब चित्तूर की हज यात्रा करने में मुश्किल पैदा कर रहा है।

शाही इमाम ने कहा कि एक तरफ पाकिस्तान की जनता रोजाना सोशल मीडिया पर पैदल यात्री शिहाब चित्तूर के भव्य स्वागत की बात कर रही है और दूसरी तरफ वहां की सरकार हज यात्रा पर रोक लगा कर चुप्पी साधे हुए है। यह दो तरह का व्यवहार समझ से बाहर है।

शाही इमाम मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने कहा कि अगर पाकिस्तान सरकार को यह गलत फहमी है कि वह इस हाजी को रास्ता ना देकर पहली बार पैदल हज पर जा रहे भारतीय मुसलमान को रोक सकती हैं, तो उनको समझ लेना चाहिए कि इंशाअल्लाह शिहाब चित्तूर भारत से मक्का मदीना जरूर जाएगा अगर पाकिस्तान ने रास्ता रोका तो फिर चीन और कजाकिस्तान के रास्ते सफर जारी रखा जायेगा।

शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान रहमानी लुधियानवी ने बताया कि इस विषय पर हमने भारत के प्रधानमंत्री मोदी जी को भी ई मेल द्वारा पत्र लिख दिया है और यह मांग की है कि पाकिस्तान की बजाए चीन के रास्ते मक्का जाने के लिए भारत सरकार शिहाब चित्तूर की मदद करे,

शाही इमाम ने कहा कि केरला से वाघा बॉर्डर तक रोजाना जब शिहाब चित्तूर पैदल चलते थे तो रास्ते में सभी राज्य सरकारों ने ना सिर्फ शिहाब चित्तूर की सुरक्षा को यकीनी बनाए रखा बल्कि सभी धर्मों के लोगों ने शिहाब चित्तूर का जगह जगह स्वागत किया। यह भारत की वह खुबसूरती है जिसे पाकिस्तान कभी समझ नहीं सकेगा।

साभार: मिल्लत टाईम्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.